जेईई मेन्स का पेपर अंतिम दिन मध्यम स्तरीय रहा (JEE Main 2020 9-January-2020 Attempt)

जेईई-मेन परीक्षा गुरुवार को संपन्न हो गई। विद्यार्थियों के फीडबैक के अनुसार जेईई मेन्स का पेपर अंतिम दिन मध्यम स्तरीय रहा। मैथ्स का पेपर सुबह की पारी में आसान जबकि शाम को लैंदी रहा। फिजिक्स का पेपर दोनों ही पारियों में स्तरीय रहा। कैमिस्ट्री का पेपर भी दोनों ही पारियों में फिजीकल, आर्गेनिक एवं इनआर्गेनिक के उचित समायोजन के साथ आसान रहा।

कैमिस्ट्री (Chemistry Paper)
कैमिस्ट्री का पेपर स्तरीय रहा। सुबह की पारी में कार्बनिक रसायन में बाॅयोमोलीक्यूल से संबंधित दो सवाल पूछे गए थे। जिसमें एक सवाल हिस्टामाइन जबकि दूसरा आर्टिफिशियल शुगर से संबंधित था। एफ ब्लाॅक में एक सवाल फ्रिडल क्राॅफ्ट रिएक्शन से संबंधित पूछा गया था। मेटलर्जी में एलिंगम डायग्राम से संबंधित प्रश्न पूछा गया। फिजिकल कैमिस्ट्री में कोलिगेटिव प्रोपर्टी के एक सवाल के उत्तर में एनएएसीएल की मात्रा किस यूनिट में दर्शानी है, यह स्पष्ट नहीं था। फिजिकल कैमिस्ट्री के 8 से 9, आर्गेनिक कैमिस्ट्री के 7 से 8 एवं शेष प्रश्न इनआॅर्गेनिक कैमिस्ट्री से पूछे गए थे। शाम की पारी में कैमिस्ट्री के काइनेटिक्स के एक्टिवेशन एनर्जी से संबंधित प्रश्न में दिए गया डाटा विद्यार्थियों को अपर्याप्त लगे।

फिजिक्स (Physics Paper)
फिजिक्स में इंटीजर सेक्शन की वजह से कैलकुलेशन आसान थी लेकिन, आब्जेक्टिव प्रश्नों में कैलकुलेशन कठिन थी। फिजिक्स में थर्मो के प्रश्न ज्यादा दिखे। आॅप्टिक्स एंड माॅडर्न फिजिक्स से 5 से 7 प्रश्न, मैकेनिक्स में 4 से 6 प्रश्न, इलेक्ट्रोस्टेटिक एंड मैगनेटिज्म में 4 से 6, हीट एंड थर्मोडायनेमिक्स में 4 से 6 शेष प्रश्न करंट इलेक्ट्रिसिटी एंड ईएमआई से पूछे गए।

मैथेमेटिक्स (Mathematics Paper)
मैथ का पेपर सुबह की पारी में आसान रहा। जबकि शाम की पारी में पेपर लेंदी था। कुछ प्रश्न ऐसे थे जो पिछले वर्षो के पेपर में भी पूछे गए थे। कैलकुलस, थ्री डी वैक्टर व कोनिक सेक्शन को अधिक महत्व दिया गया। ट्रिग्नोमेट्री से 1-2 प्रश्न, एलजेब्रा से भी प्र्याप्त प्रश्न पूछे गए थे। शाम की पारी में कैलकुलेशल मल्टी स्टेप होने से विद्यार्थियों का समय अधिक खर्च हुआ।

Leave comment

Your email address will not be published. Required fields are marked with *.