जेईई मेन 2021: 10 लाख स्टूडेंट्स पर जारी होगी पहली रैंक

10 लाख स्टूडेंट्स पर जारी होगी पहली रैंक

देश की सबसे बड़ी इंजीनियरिंग प्रवेश परीक्षा जेईई-मेन के तीसरे अाैर चौथे सेशन की परीक्षा 20 से 25 जुलाई एवं 27 जुलाई से 2 अगस्त के बीच हाेगी। तीसरे सेशन की आवेदन प्राेसेस गुरुवार रात 9 बजे तक रही। वहीं, चौथे सेशन की आवेदन प्राेसेस शुक्रवार से 12 जुलाई के बीच तक हाेगी। तीसरे सेशन की परीक्षा के लिए करीब 90 हजार नए स्टूडेंट्स ने आवेदन किया है। जिन्होंने पहले फरवरी अाैर मार्च में परीक्षा के लिए आवेदन नहीं किया। जेईई-मेन 2021 की आॅल इंडिया रैंक करीब 10 लाख स्टूडेंट्स पर जारी होगी। क्योंकि जेईई-मेन के चारों सेशन की परीक्षा में शामिल होने वाले यूनिक कैंडिडेट की संख्या करीब 10 लाख तक होना लगभग तय हो गया है। जेईई-मेन आवेदन प्राेसेस के पहले चरण में करीब 9 लाख 30 हजार स्टूडेंट्स ने रजिस्ट्रेशन करवाया था। इसमें से 6 लाख 25 हजार स्टूडेंट्स ने फरवरी माह में परीक्षा दी यानी शेष 2 लाख से अधिक स्टूडेंट्स ने अगले तीन सेशन के लिए आवेदन किया।

हर पर्सेन्टाइल पर 10 हजार स्टूडेंट्स शामिल होंगे

अगर सभी चारों सेशन के लिए आवेदन करने वाले यूनिक स्टूडेंट्स को देखा जाए तो इनकी संख्या 10 लाख के करीब हो रही है। ऐसे में हर पर्सेन्टाइल पर 10 हजार स्टूडेंट्स शामिल होंगे। जेईई-मेन की ऑल इंडिया रैंक चारों सेशन में बैठने वाले यूनिक कैंडिडेट पर ही जारी की जाती है। यूनिक कैंडिडेट का अर्थ उस स्टूडेंट्स से है, जो चारों परीक्षा में शामिल हो रहा है और उसे एक ही गिना जाएगा। पिछले साल 10.28 लाख यूनिक स्टूडेंट्स पर आॅल इंडिया रैंक जारी की थी।

Leave comment

Your email address will not be published. Required fields are marked with *.