CBSE 2021: सीबीएसई 6वीं से 12वीं तक के छात्र पढ़ेंगे कोडिंग और डेटा साइंस

सीबीएसई ने युवाओं को स्किल्ड बनाने के लिए राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 के प्रावधानों के अनुरूप छठवीं से 12वीं तक के पाठ्यक्रम में कोडिंग और डेटा साइंस को शामिल किया है l यह जानकारी पिछले दिनों केंद्रीय शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने लोकसभा में एक प्रश्न के उत्तर में दी l उन्होंने बताया कि सीबीएसई ने राष्ट्रीय शिक्षा नीति के तहत तीन जून 2021 को अपने पाठ्यक्रमों में कौशल शिक्षा के तहत कोडिंग और डाटा साइंस शामिल किया है. केंद्रीय शिक्षा मंत्री ने बताया कि कोडिंग छठवीं से आठवीं कक्षा तक के छात्रों के लिए है l यह 12 घंटे का है. जबकि डाटा साइंस नौवीं से 12वीं तक के छात्रों के लिए एक वैकल्पिक कौशल विषय के रूप में शुरू किया गया है l उन्होंने कहा कि दोनों विषयों के सेलेबस, संकाय और हैंडबुक माइक्रोसॉफ्ट की मदद से तैयार किए गए हैं l

वर्तमान में सीबीएसई मिडिल स्कूल में नौ स्किल मॉड्यूल ऑफर कर रहा है l जबकि सेकेंडरी लेवल पर 38 स्किल सब्जेक्ट हैं l इसका मकसद युवा पीढ़ी को अत्याधुनिक तकनीक में स्किल्ड बनाना है l सीबीएसई के अनुसार वर्तमान में उससे संबद्ध करीब 12000 स्कूलों में 20 लाख से अधिक छात्र स्किल सब्जेक्ट्स की पढ़ाई कर रहे हैं l

Leave comment

Your email address will not be published. Required fields are marked with *.