आईआईटी-एनआईटी काउंसलिंग के द्वितीय राउण्ड का सीट आवंटन जारी, तृतीय राउण्ड आवंटन 6 जुलाई को 
देश के कुल 100 कॉलेजों की 37952 सीटों के लिए जोसा द्वारा ज्वाइंट काउंसलिंग चल रही है, इस ज्वाइंट काउंसलिंग का द्वितीय राउण्ड का सीट आवंटन मंगलवार सांय 5 बजे जारी कर दिया गया। जिन विद्यार्थियों को प्रथम बार द्वितीय राउण्ड में कॉलेज सीट का आवंटन हुआ है, उन्हें सीट असेप्टेंस फीस जमा करवाकर आवश्यक दस्तावेजों के साथ बनाए गए देश के 57 रिपोर्टिंग सेंटर पर 5 जुलाई सांय 5 बजे तक रिपोर्ट करना होगा, अन्यथा वह काउंसलिंग से बाहर हो जाएंगे। द्वितीय राउण्ड सीट आवंटन में सामान्य वर्ग के लिए आईआईटी की क्लोजिंग रैंक जेंडर न्यूट्रल पूल से 10379 रही, जो कि आईआईटी बीएचयू की 5 वर्षीय फार्मास्यूटिकल इंजीनियरिंग की है। वहीं फीमेल पूल द्वारा 15125 रैंक वाली छात्रा को आईएसएम धनबाद की माइनिंग मशीनरी ब्रांच का आवंटन हुआ है। एनआईटी की क्लोजिंग रैंक जेंडर न्यूट्रल पूल से 10 लाख 63 हजार 916 रैंक रही। इस विद्यार्थी को एनआईटी सिक्किम में इलेक्ट्रोनिक्स एण्ड कम्यूनिकेशन इंजीनियरिंग ब्रांच होम स्टेट कोटे से मिली। वहीं ट्रिपलआईटी की क्लोजिंग रैंक जेंडर न्यूट्रल पूल से 34 हजार 518 रैंक रही एवं जीएफटीआई की 1 लाख 56 हजार 320 रही। जोसा काउंसलिंग के तृतीय राउण्ड का सीट आवंटन 6 जुलाई सांय 5 बजे तक किया जाएगा।
कॅरियर काउंसलिंग एक्सपर्ट  के अनुसार जिन विद्यार्थियों को प्रथम राउण्ड में सीट का आवंटन हुआ था और उन्होंने रिपोर्टिंग सेंटर पर जाकर फ्लॉट व स्लाइड विकल्प को चुना था, उन्हें दोबारा कहीं रिपोर्टिंग करने की आवश्यकता नहीं है। साथ ही वे विद्यार्थी जो अपने द्वारा प्रथम काउंसलिंग राउण्ड के दौरान लिए गए फ्लॉट व स्लाइड विकल्प को बदलकर आगे की काउंसलिंग में जाना चाहते हैं, उन्हें वेबसाइट पर दिए गए, विकल्प बदलने हेतु स्विचओवर फार्म को भरकर दोबारा रिपोर्टिंग सेंटर पर रिपोर्ट करना होगा। विद्यार्थी फ्लॉट विकल्प को स्लाइड व फ्रीज में एवं स्लाइड विकल्प को फ्रीज में बदलकर आगे की काउंसलिंग में भाग ले सकते हैं। जिन विद्यार्थियों को प्रथम राउण्ड में आईआईटी का आवंटन हुआ था, अगर अब उन्हें द्वितीय राउण्ड में एनआईटी का आवंटन होता है, साथ ही जिन्हें प्रथम राउण्ड में एनआईटी सीट का आवंटन हुआ था और अब उन्हें द्वितीय राउण्ड में आईआईटी सीट का आवंटन होता है तो ऐसे विद्यार्थियों को ड्यूअल रिपोर्टिंग करना होगा अर्थात द्वितीय राउण्ड में नए आवंटित कॉलेज के अनुसार ही बनाए गए रिपोर्टिंग सेंटर पर आवश्यक दस्तावेजों के साथ रिपोर्ट करना होगा, अन्यथा उनकी आवंटित सीट निरस्त कर दी जाएगी।

Leave comment

Your email address will not be published. Required fields are marked with *.