जेईई-मेन-2021- 95 प्रतिशत स्टूडेंट्स ने बीई-बीटेक एवं 81.2 प्रतिशत ने बीआर्क-बीप्लानिंग परीक्षा दी
देश की सबसे बड़ी इंजीनियरिंग प्रवेश परीक्षा जेईई-मेन-2021 जो कि फरवरी माह में 23 से 26 फरवरी के मध्य देश-विदेश के 331 शहरों में संपन्न हो चुकी है। फरवरी परीक्षा के लिए कुल 6 लाख 61 हजार 776 स्टूडेंट्स रजिस्टर्ड हुए। जिनमें बीई-बीटेक के 6 लाख 52 हजार 627 एवं बीआर्क-बीप्लानिंग के लिए 63 हजार 65 स्टूडेंट्स शामिल थे। एनटीए द्वारा जारी प्रेस रिलीज के अनुसार 24 से 26 फरवरी के मध्य हुई बीई-बीटेक परीक्षा में 95 प्रतिशत स्टूडेंट्स ने परीक्षा दी। यानी लगभग 6 लाख 19 हजार 995 स्टूडेंट्स परीक्षा में शामिल हुए। जबकि 23 फरवरी को हुई बीआर्क-बीप्लानिंग के लिए 81.2 प्रतिशत यानी लगभग 51 हजार 208 स्टूडेंट्स परीक्षा में बैठे। दिए गए आंकड़ों के अनुसार बीई-बीटेक परीक्षा के लिए बैठक कुल 6 लाख 19 हजार 995 स्टूडेंट्स में से 6 शिफ्टों में हुई परीक्षा में प्रत्येक शिफ्ट में करीब 1 लाख 3 हजार स्टूडेंट्स ने परीक्षा दी। प्रत्येक स्टूडेंट का अपनी शिफ्ट में बैठे कुल स्टूडेंट्स की संख्या के अनुरूप ही 7 डेसीमल पर्सेन्टाइल एनटीए स्कोर जारी किया जाता है। जेईई मेन फरवरी परीक्षा में 95 प्रतिशत स्टूडेंट्स को च्वाइस में पहला परीक्षा केन्द्र आवंटित किया गया है। फरवरी माह में हुई जेईई मेन परीक्षा का परिणाम, स्टूडेंट्स के रिकाॅर्डेड रिस्पाॅन्स एवं आफिशियल आंसर-की मार्च के प्रथम सप्ताह में जारी होने की संभावना है।
बहरीन में लाॅकडाउन की वजह से परीक्षा नहीं हुई
जेईई मेन फरवरी माह की परीक्षा भारत के अलावा विदेश में कोलम्बो, ढ़ाका, दुबई, काठमांडू, मस्कट, रियाद, शारजाह, सिंगापुर, कुवैत एवं बहरीन में आयोजित होनी थी, लेकिन, लाॅकडाउन के चलते सिर्फ बहरीन में जेईई मेन फरवरी माह की परीक्षा का आयोजन नहीं हो सका। इस संबंध में बहरीन का भारतीय दूतावास लगातार एनटीए के संपर्क में है। यहां के स्टूडेंट्स की परीक्षा मार्च माह में बैठने वाले स्टूडेंट्स के साथ कराई जाएगी।

Leave comment

Your email address will not be published. Required fields are marked with *.