अब साल में दो बार होगी नीट व जेईई : प्रकाश जावड़ेकर

मेडिकल और इंजीनियरिंग की तैयारी कर रहे छात्रों के लिए अच्छी खबर है। अब उन्हें जेईई व नीट परीक्षाओं में बैठने का मौका साल में दो बार मिलेगा। अभी तक यह परीक्षाएं साल में एक बार ही होती आई है। ऐसा पहली बार होगा। मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने शुक्रवार को दिल्ली में प्रेस काॅन्फ्रेन्स को संबोधित करते हुए इस बारे में जानकारी दी। भारत सरकार ने मेडिकल व इंजीनियरिंग प्रवेश परीक्षा नीट व जेईई समेत सीमैट, फार्मेसी, नेट आदि परीक्षाएं कराने की जिम्मेदारी नेशनल टेस्टिंग एजेंसी यानी एनटीए को सौंप दी है।

कब-कब होगी कौन सी परीक्षा
जावड़ेकर ने बताया कि इन परीक्षाओं के लिए महीना निर्धारित कर दिया गया है. जावड़ेकर ने बताया नीट की परीक्षा अब साल में दो बार होगी। हर साल फरवरी और मई के महीने में इसका आयोजन होगा। इसी तरह से जेईई की परीक्षा भी अब साल में दो बार- जनवरी और अप्रैल में कराई जाएगी। छात्रों को एक से ज्यादा बार परीक्षाओं में बैठने से संबंधित सवाल का जवाब देते हुए केंद्रीय मंत्री ने कहा कि छात्र दोनों बार परीक्षा दे सकते हैं। प्रवेश के लिए दोनों में से उच्च प्राप्तांक पर विचार किया जाएगा।

सभी परीक्षाएं कंप्यूटर आधारित होंगी
एनटीए परीक्षओं का आयोजन आॅनलाइन करेगा। इन परीक्षाओं के संदर्भ में पाठ्यक्रम, प्रश्नों के रूप और भाषा के विकल्प के बारे में कोई बदलाव नहीं किया गया है। परीक्षा की फीस में भी कोई बढ़ोतरी नहीं की गई है। प्रकाश जावड़ेकर ने बताया कि ये परीक्षाएं कंप्यूटर आधारित होंगी. उन्होंने कहा कि इस बारे में छात्रों को घर पर या किसी केंद्र पर अभ्यास करने की सुविधा दी जाएगी। यह मुफ्त होगा। हर परीक्षा कई तिथियों को आयोजित होगी यानी 4-5 दिनों तक चल सकती हैं ।

नोटिफिकेशन के लिए यहां क्लिक करें…       NTA press release final

2 thoughts on “अब साल में दो बार होगी नीट व जेईई : प्रकाश जावड़ेकर

Leave comment

Your email address will not be published. Required fields are marked with *.