KVPY 2020- किशोर वैज्ञानिक प्रोत्साहन योजना एप्टीट्यूड टेस्ट के लिए आवेदन शुरू

किशोर वैज्ञानिक प्रोत्साहन योजना-केवीपीवाय एप्टीट्यूड टेस्ट-2020 का आयोजन 31 जनवरी 2021 को किया जाएगा। इस संबंध में केवीपीवाय-2020 की ऑफिशियल वेबसाइट पर हाल ही में जारी नोटिफिकेशन जारी किया गया है। नोटिफिकेशन के अनुसार केवीपीवाय फैलोशिप की चयन प्रक्रिया में कोविड-19 के कारण उत्पन्न आपात परिस्थितियों के चलते इस वर्ष बड़ा बदलाव किया है।
शैक्षणिक वर्ष-2020-21 के लिए केवीपीवाय-फैलोशिप चयन प्रक्रिया मात्र एक ही चरण में आयोजित की जाएगी। इस वर्ष फैलोशिप के लिए चयन केवीपीवाय एप्टिट्यूड टेस्ट के अंकों के आधार पर ही किया जाएगा। दूसरे चरण के अंतर्गत आयोजित किए जाने वाला पर्सनल-इंटरव्यू इस वर्ष आयोजित नहीं होगा।

ऑनलाइन आवेदन की प्रोसेस 6 सितम्बर, रविवार से शुरू हो चुकी है। ऑनलाइन आवेदन की अंतिम तिथि 5-अक्टूबर-2020 है। किशोर वैज्ञानिक प्रोत्साहन योजना,भारत सरकार के विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी मंत्रालय का एक प्रतिष्ठित फैलोशिप प्रोग्राम है।इस प्रोग्राम में विज्ञान विषय के कक्षा-11,कक्षा-12 तथा कॉलेज स्तर पर प्रथम वर्ष के स्टूडेंट्स भाग ले सकते हैं। राष्ट्रीय स्तर पर स्टूडेंट्स के चयन के लिए उच्च-स्तरीय प्रवेश परीक्षा सामान्यतः दो-चरणों में आयोजित की जाती थी। प्रथम चरण एक ऑनलाइन एप्टिट्यूड टेस्ट होता था तथा प्रथम चरण में सफल स्टूडेंट्स के लिए द्वितीय चरण पर्सनल इंटरव्यू आयोजित किया जाता था।

दसवीं बोर्ड में विज्ञान और गणित में 75 प्रतिशत अंक आवश्यक
केवीपीवाय फैलोशिप की एस-ए एवं एस-एक्स स्ट्रीम के तहत केवीपीवाय एप्टिट्यूड टेस्ट-2020 में भाग लेने के लिए स्टूडेंट्स के दसवीं बोर्ड परीक्षा में विज्ञान एवं गणित विषयों में एग्रीगेट 75% अंक होना आवश्यक है। एससी,एसटी एवं पीडब्ल्यूडी स्टूडेंट्स के लिए पात्रता में 10 प्रतिशत अंकों की छूट दी गई है अर्थात इन केटेगरी के स्टूडेंट्स के लिए पात्रता 65 प्रतिशत अंकों की है। केवीपीवाय एप्टिट्यूड टेस्ट-2020 के लिए पात्र स्टूडेंट्स ऑफिशियल वेबसाइट के माध्यम से ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। सामान्य श्रेणी के स्टूडेंट्स के लिए ऑनलाइन आवेदन फीस 1250तथा एससी,एसटी एवं पीडब्ल्यूडी कैटेगरी के स्टूडेंट्स के लिए ऑनलाइन आवेदन फीस 650 रुपए रखी गई है।

Leave comment

Your email address will not be published. Required fields are marked with *.