जेईई मेन 2020 अब नए पैटर्न में होगी, कुल 15 प्रश्न कम पूछे जाएंगे

जेईई मेन 2020 (JEE MAIN 2020) देश के 224 शहरों में होगी परीक्षा.

देश की सबसे बड़ी इंजीनियरिंग प्रवेश परीक्षा जेईई मेन जोकि 6 से 11 जनवरी के मध्य देश के 224 शहरों में पूर्णतया कम्प्यूटर बेस्ड कराई जाएगी। जिसमें राजस्थान में यह परीक्षा 9 शहरों में संपन्न होगी। राजस्थान के अजमेर, अलवर, बीकानेर, जयपुर, जोधपुर, कोटा, सीकर, श्रीगंगानगर एवं उदयपुर में परीक्षा केन्द्र बनाए जाएंगे। जेईई मेन परीक्षा विदेशों में नौ शहरों में आयोजित होगी। जिसमें बहरान, कोलम्बो, दोहा, दुबई, काठमांडू, मस्कट, रियाद, शारजाह एवं सिंगापुर शामिल है। वर्ष 2020 में होने वाली जेईई मेन परीक्षा के पैटर्न में बड़ा बदलाव किया गया है। परीक्षा में कुल 75 प्रश्न 300 अंकों के पूछे जाएंगे। जिसमें प्रत्येक विषय मैथ्स, फिजिक्स एवं कैमेस्ट्री से 25-25 प्रश्न पूछे जाएंगे। जिसमें 20 प्रश्न बहुविकल्पीय जबकि शेष 5 प्रश्न न्यूमेरिकल वैल्यू बेस्ड होंगे। जिसमें हर विषय को समानता दी जाएगी।

प्रत्येक विषय से पूछे गए कुल बहुविकल्पीय एवं न्यूमेरिकल वैल्यू बेस्ड 25 प्रश्न 100 अंकों के होंगे। प्रत्येक प्रश्न 4 अंकांें का होगा। बहुविकल्पीय प्रश्नों का सही उत्तर देने पर चार अंक दिए जाएंगे एवं गलत उत्तर पर एक अंक की नेगेटिव मार्किंग होगी। इसके साथ ही न्यूमेरिकल वैल्यू बेस्ड प्रश्नों में सही उत्तर देने पर चार अंक मिलेंगे एवं गलत उत्तर पर कोई नेगेटिव मार्किंग नहीं होगी। जबकि गत वर्ष तक प्रत्येक विषय से 30-30 प्रश्न एवं कुल 90 प्रश्न पूछे जाते थे। ओवरआॅल पेपर 360 अंकों का होता था। इस प्रकार इस वर्ष कुल 15 प्रश्न कम पूछे जाएंगे एवं ओवरआॅल पेपर में 60 अंकों की कमी हो गई।

इस वर्ष भी विद्यार्थी द्वारा जनवरी एवं अप्रैल, दोनों परीक्षा देने पर विद्यार्थी के अधिकतम एनटीए स्कोर के आधार पर ही जेईई मेन की आॅल इंडिया रैंक एवं जेईई एडवांस्ड देने की पात्रता जारी होगी। आवेदन की अंतिम तिथि 30 सितम्बर तक रखी गई है।

Leave comment

Your email address will not be published. Required fields are marked with *.