चुनावों के चलते जेईई मेन में देरी, नीट परीक्षा मई में होने के आसार

इंजीनियरिंग प्रवेश परीक्षा जेईई मेन 2022 इस बार फरवरी माह की बजाय मार्च से शुरू हो सकती है। वर्ष 2021 की तरह इस बार भी एनटीए की जेईई मेन परीक्षा चार फेजों में कराने की योजना है। हालांकि पिछली बार जहां जेईई मेन का फेज-1 फरवरी से शुरू हो गया था, वहां इस बार फेज-1 मार्च से शुरू हो सकता है। वहीं, मेडिकल प्रवेश  परीक्षा नीट 2022 का आयोजन मई में हो सकता है। नीट परीक्षा के जरिए ही देश भर के मेडिकल कॉलेजों में एमबीबीएस, बीडीए, बीएएमएस समेत विभिन्न कोर्सेज में एडमिशन होता है। जबकि जेईई मेन से देश के 23 आईआईटी, 31 एनआईटी, 23 ट्रिपल आईटी सहित जीएफटीआई की 36000 सीटों पर प्रवेश का रास्ता निकलता है। मार्च, अप्रैल, मई और जून सत्र की जेईई मेन परीक्षाएं खत्म होने के बाद चारों सत्रों के बेस्ट एनटीए स्कोर के आधार पर स्टूडेंट्स की रैंक जारी की जाएगी। जेईई मेन परिणाम में पहले 2,50,000 रैंक हासिल करने वाले उम्मीदवार जेईई एडवांस टेस्ट के लिए आवेदन करने के पात्र होंगे।

टाइम्स ऑफ इंडिया में प्रकाशित खबर के मुताबिक जेईई मेन 2022 और नीट 2022 की संभावित तिथियों के बारे में बात करते हुए शिक्षा मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया है कि इंजीनियरिंग प्रवेश परीक्षा आगामी पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों के चलते देरी से हो सकती है। अधिकारी ने कहा, श्चुनावों के चलते परीक्षा का शेड्यूल थोड़ा बदल सकता है। जेईई मेन के फर्स्ट फेज का एग्जाम फरवरी की बजाय मार्च में हो सकता है। इसके बाद अप्रैल, मई और जून में जेईई मेन होगा।

हालांकि जेईई मेन 2022 की आवेदन प्रक्रिया शुरू होने को लेकर कोई अपडेट नहीं दी गई है। लेकिन माना जा सकता है कि जेईई मेन की आवेदन प्रक्रिया जनवरी से शुरू हो सकती है।

Leave comment

Your email address will not be published. Required fields are marked with *.